Search

भारत के लिए ये मोमेंट बना मैच का टर्निंग प्वाइंट, धोनी ने यूं बदल दिया मैच

स्पोर्ट्स डेस्क.भारत ने कानपुर वनडे में न्यूजीलैंड को 6 रन से हरा दिया और सीरीज 2-1 से जीत ली। इस मैच का फैसला होने से थोड़ी देर पहले तक ये साफ नहीं था कि दोनों में से कौन सी टीम जीतने वाली है। वहीं एक वक्त जब टॉम लेथम क्रीज पर थे, तब तो लग रहा था कि ये मैच और वनडे सीरीज भारत के हाथ से निकल गई। लेकिन धोनी की सूझबूझ की वजह से ये नहीं हो सका और लेथम के लौटते ही मैच बदल गया। लेथम का आउट होना रहा टर्निंग प्वाइंट…
 – मैच में 47 ओवर पूरे होने तक न्यूजीलैंड की पकड़ मैच पर हो चुकी थी। तब कीवी टीम का स्कोर 5 विकेट पर 308 रन था।
– इस वक्त कीवी टीम को जीत के लिए 18 बॉल पर 30 रन बनाने थे और क्रीज पर टॉम लेथम के साथ ग्रैंडहोम बैटिंग कर रहे थे।
– लेथम क्रीज पर पूरी तरह से सेट थे और 50 बॉल पर 64 रन बना चुके थे, वहीं ग्रैंडहोम 2 रन पर खेल रहे थे।
– इसके बाद 47.5 ओवर में एक रिस्की रन लेने की कोशिश में टॉम लेथम (65 रन) रन आउट हो गए और न्यूजीलैंड का छठा विकेट गिर गया।
– लेथम का आउट होना मैच का टर्निंग प्वाइंट रहा। अगर ग्रैंडहोम चाहते तो खुद आउट होकर लेथम को बचा सकते थे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।
– ऐसे क्रूशल मोमेंट पर लेथम के रन आउट होते ही न्यूजीलैंड की टीम प्रेशर में आ गई और बाद के दोनों बैट्समैन रन नहीं बना सके।
धोनी ने फिर किया कमाल
– 47.5 ओवर में जसप्रीत बुमराह की एक जबरदस्त यॉर्कर को ग्रैंडहोम खेलने में चूक गए और बॉल पीछे विकेटकीपिंग कर रहे धोनी के पास चली गई।
– इस दौरान नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े टॉम लेथम स्ट्राइक लेने के चक्कर में आधी क्रीज तक आ गए, उन्हें आता देख ग्रैंडहोम भी दौड़े लेकिन फिर वापस आ गए।
– धोनी ने लेथम को आधी क्रीज में देख लिया था, जिसके बाद उन्होंने बॉल को बुमराह को देते हुए लेथम को रन आउट करने के लिए कहा।
– आधी क्रीज तक आ चुके लेथम के दोबारा बॉलिंग क्रीज तक पहुंचने से पहले ही बुमराह ने धोनी से मिले थ्रो को स्टम्प पर दे मारा और उन्हें आउट कर दिया।
– धोनी की सूझबूझ की वजह से भारत को सबसे बड़ा विकेट मिल चुका था, जिसके बाद कीवी टीम उबर नहीं पाई और मैच भारत जीत गया।

Written by 

Related posts

Leave a Comment